8वी के छात्र ने 8 साल के बच्चे के शव के किये टुकड़े-टुकड़े, रोज़ देखता था क्राइम पेट्रोल

लुधियाना: पंजाब के लुधियाना में एक मासूम बच्चे की हत्या करने का मामला सामने आया है। बता दें कि आठवीं के एक छात्र ने 8 साल के एक बच्चे की हत्या कर शव के टुकड़े टुकड़े कर दिया।
मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक घटना की जानकारी जब पुलिस को मिली तो पुलिस ने आनन-फानन में जांच शुरु कर दी। प्राथमिक छानबीन में पता चला कि छात्र को स्कूल जाना पसंद नहीं था, इसलिए उसने बच्चे का दिल निकाल कर स्कूल में फेंक दिया जिससे स्कूल बदनाम हो जाए और उसे स्कूल न जाना पड़े। पीडि़त परिवार का कहना है कि आरोपी लड़के को जानवरों का ताजा मांस खाना पसंद है। पुलिस ने बताया कि आरोपी ने घर पर कच्चा मांस खाने की बात स्वीकार की है। पुलिस का दावा है कि उसने फिरौती के लिए मासूम बच्चे का अपहरण किया था। लेकिन पीडि़त परिवार ने फिरौती की कोई कॉल न मिलने की बात की है। बताया जा रहा है कि आरोपी लड़के ने करीब डेढ़ महीने पहले पुलिस कंट्रोल रूम में फोन किया और दावा किया कि स्कूल प्रबंधन ने एक बच्चे को कैद कर रखा है, जिसकी हत्या हो सकती है।
जब पुलिस टीम वहां पहुंची तो वह कॉल फर्जी थी। तब पुलिस ने उसे चेतावनी देकर छोड़ दिया था और स्कूल स्टाफ ने भी फटकार लगाई थी। कथित तौर आरोपी ने पुलिस से बताया है कि इस अपमान का बदला लेने के लिए उसने दीपू की हत्या की। हालांकि पुलिस कमिश्नर जतिंदर सिंह औलख ने इन सब चीजों से इनकार किया है। उन्होंने कहा कि इस मामले में और आगे जांच करने की जरुरत है।
सुरेश के मुताबिक, वह टीवी पर क्राइम पेट्रोल का हर एपिसोड देखता था। एक एपिसोड में दिखाया कि बच्चों को किडनैप कर उनकी किडनियां निकालकर मार देते हैं। यहीं से उसे आइडिया आया कि घर से थोड़ी दूर रहने वाले दीपू का कत्ल कर दिया जाए। सुरेश ने ये भी बताया कि वह लाश स्कूल के पास दिल निकाल कर अलग फेंक देगा, ताकि लगे कि स्कूल से बच्चे किडनैप कर उनके अंग निकाल लिए जाते हैं। दूसरा, वह पैसे भी कमाना चाहता था और उसने दीपू के पिता दलीप के पास कई बार पैसे देखे थे। लिहाजा, वारदात के बाद उसने दलीप से फिरौती की रकम लेकर गांव भागने की प्लानिंग भी कर ली थी।

loading...

Comments

comments