ये हैं वो सितारे जिन्होंने प्यार को पाने के लिए इस्लाम मज़हब को चुन लिया था…

लोग प्यार में कुछ भी करने को तैयार हो जाते हैं। पर लोग अच्छा इंसान बनने के लिए भी अपना धर्म, मज़हब बदल सकते हैं। (क्यों भाई धर्म बदलने से कैसे अच्छाई जाग जाती है)। आईये देखते हैं इस लिस्ट में कौन-कौन लोग आते हैं।

1.गुज़रे ज़माने के मशहूर अभिनेता और बॉलीवुड के ही मैन धर्मेंद्र ने 1979 में इस्लाम अपनाया था। इसकी वज़ह थी धर्मेंद्र का हेमा मालिनी के लिए प्यार। दरअसल धर्मेंद्र हेमा मालिनी से शादी करना चाहते थे लेकिन हिंदू मैरिज़ एक्ट के अनुसार ऐसा हो नहीं सकता था और धर्मेंद्र अपनी पहली पत्नी को तलाक भी नहीं देना चाहते थे यही वजह थी कि धर्मेंद्र ने हेमा के साथ अपने रिश्ते को नाम देने के लिए इस्लाम कुबूल किया।

2. शर्मिला टैगोर और नवाब मंसूर अली खान का प्यार किसी से छिपा नहीं था। बॉलीवुड की बेहतरीन अदाकारा और पद्म भूषण से नवाजी गई शर्मिला हिंदू परिवार में पैदा हुई थीं लेकिन मंसूर अली खान की बेग़म बनने के लिए शर्मिला ने अपना धर्म बदला

3. अमृता सिंह का जन्म सिख-मुस्लिम फैमिली में हुआ था और अमृता ने 1983 में फिल्मों में कदम रखा । मर्द और बेताब जैसी फिल्मों से शोहरत और सफलता का स्वाद चखने वाली अमृता अपने से उम्र में काफी छोेटे सैफ अली खान से प्यार करने लगीं और उनसे शादी करने से पहले अमृता ने इस्लाम धर्म अपनाया।

4. पॉप सिंगर माइकल जैक्सन ने भी इस्लाम धर्म कुबूल किया था। उन्होंने अपने एक दोस्त के कहने पर इस्लाम कुबूल किया क्योंकि उनका मानना था कि इस्लाम की शिक्षाएं माइकल को बेहतर इंसान बनाएगी। ख़ैर माइकल भी उन सेलिब्रिटीज़ में आते हैं जिन्होंने अपना धर्म छोड़कर इस्लाम कुबूल किया।

5. दमादम मस्त कलंदर और टोटे टोटे जैसे गाने गाने वाले पंजाबी सिंगर हंसराज हंस ने भी प्यार के लिए इस्लाम कुबूल किया है।

6.इलैया राजा के बेटे युवान शंकर सक्सेसफुल संगीतकार हैं। युवान ने हाल ही में इस्लाम धर्म कुबूला है। इसके पीछे की वजह युवान अपने पिता का अंधविश्वास बताते हैं। युवान का कहना है कि एक छोटा-सा गिलास टूटने पर भी इलैया पंडित को बुला लेते हैं। वहीं इसके विपरीत युवान को कुरआन में शांति का अहसास होता है।सेलिब्रिटिज़ के लिए कुछ भी असंभव नहीं है। हम लोग बस प्यार कर सकते हैं, प्यार पाने के लिए धर्म नहीं बदल सकते क्योंकि हमें ज़माने का लिहाज़ करना पड़ता है। हम ये सोचते हैं कि हाय राम लोग क्या कहेंगे।