मोदी के मनमोहन के लिए ‘बाथरूम में रेनकोट पहनकर नाहने’ वाले बयान को लेकर ट्विटर पर भड़के लोग…

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मनमोहन सिंह पर निशाना साधा। उसके बाद ट्विटर पर लोगों ने पीएम मोदी को निशाने पर ले लिया। ट्विटर पर बुधवार (8 फरवरी) को #JaahilPMModi ट्रेंड कर रहा था। इसपर लोग मोदी के तंज कसने के खिलाफ ट्वीट कर रहे थे। कोई कह रहा था कि मोदी को ऐसा नहीं कहना चाहिए था।

वहीं किसी ने कहा कि मोदी ने विधानसभा चुनाव में हार के डर से अपना मानसिक संतुलन खो दिया है। एक ने लिखा, 5 सालों में मोदीजी पीएम पद की गरिमा को सड़क छाप नेता के लेवल पर लाकर ही दम लेंगे’, दूसरे ने कहा, ‘मोदी राज्यसभा मे आज फिर से प्रधानमंत्री पद की गरिमा को बरबाद कर रहे हैं’, तीसरे ने कहा, ‘आज कोयले ने हीरे का अपमान किया है राज्यसभा में । आप उनके पैरों की धूल भी नहीं हो साहेब।

इसके अलावा भी कुछ ट्वीट आए। एक ने लिखा, ‘लोगों ने अनपढ़ प्रधानमंत्री चुन लिया है जो हमेशा लोगों की बेइज्जती करता रहता है।’ दूसरे ने लिखा, ‘मोदी का असली चेहरा सामने आ गया, पता लग गया कि वह ट्रोल करने वाले बकवास लोगों को क्यों फॉलो करते हैं’, अगले ने लिखा, ‘मोदी द्वारा बोली गई भाषा किसी ट्रोल की तरह थी। पूर्व पीएम के लिए ऐसी बात करना ठीक नहीं’, अगले ट्वीट में लिखा गया, ‘मोदी के संसद में दिए हुए भाषण को सुन के मैं शर्म के साथ कहता हूं की मेरा PM न सिर्फ मंदबुद्धि बल्कि बदनीयत भी है।’

मनमोहन सिंह पर निशाना साधते हुए पीएम मोदी ने कहा था, ‘बाथरूम में रेनकोट पहनकर नाहने की कला तो सिर्फ डॉक्टर साहब के पास थी।’ दरअसल, मोदी कांग्रेस के कार्यकाल में हुए घोटालों का जिक्र करते हुए इस बात पर आए। उन्होंने कहा कि मनमोहन सिंह के कार्यकाल में इतने घोटाले हुए फिर भी उनपर कोई दाग नहीं लगा। उन्होंने यह भी कहा कि मनमोहन सिंह 30-35 साल तक देश के बड़े आर्थिक फैसले लेने वाले लोगों के समूह में बने रहे थे।