मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड: तीन तलाक़ मसले पर रवि शंकर मुस्लिम समाज को धमकाकर अपनी हदो को पार कर रहे हैं

ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने तीन तलाक़ को लेकर केंद्रीय मंत्री रवि शंकर प्रसाद पर राजनीति करने का आरोप लगाया है। बोर्ड के सदस्य कमाल फ़ारूक़ी ने कहा कि रवि शंकर प्रसाद इस मसले को लेकर न्यायपालिका पर दबाव बनाने के साथ मुस्लिम समुदाय को धमकाकर अपनी हद पार कर रहे हैं। यहां एएनआई न्यूज़ एजेंसी से बातचीत में कहा कि कानून मंत्री की यह हरकत बेहद आपत्तिजनक है।

हम उम्मीद करते हैं कि वह भविष्य में इस तरह की टिप्पणी करने से खुद को रोकेंगे। फ़ारूक़ी ने कहा कि मुस्लिम समुदाय भी तीन तलाक़ की अवधारणा को नापसंद करता है और इस प्रक्रिया के दौरान हम लोगों से सुलह के लिए पूछते हैं। उन्होंने कहा कि दुर्भाग्य से हमारे देश में कुछ लोग तीन तलाक के मामले का राजनीतिकरण करने की कोशिश में लगे हैं जो बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है। मामला अदालत में है और हमें उम्मीद है कि सुप्रीम कोर्ट को इस पर संज्ञान लेना होगा। फ़ारूक़ी ने कहा कि तीन तलाक़ कड़वी हो चुकी शादी का अंत करने के लिए आसान मार्ग है और इस्लाम ही एक ऐसा मज़हब है जिसने महिलाओं को अनेक अधिकार प्रदान किये हैं।

गौरतलब है कि प्रसाद ने गत दिनों कहा था कि विधानसभा चुनावों की मौजूदा प्रकिया खत्म होने के बाद केंद्र सरकार संभवत: ‘तीन तलाक’ को प्रतिबंधित करने के संबंध में अहम कदम उठा सकती है।