बॉम्बे हाईकोर्ट ने मालेगांव ब्लास्ट की मुख्य आरोपी साध्वी प्रज्ञा की जमानत याचिका को स्वीकार किया

मुम्बई: बॉम्बे हाईकोर्ट ने मालेगांव बम धमाकों की आरोपी साध्वी प्रज्ञा ठाकुर की जमानत याचिका मंजूर कर ली। एनआईए ने मंगलवार को बाम्बे हाईकोर्ट में साध्वी प्रज्ञा की बेल की याचिका के खिलाफ ऑडियो और विडियो क्लिप पेश किया था। जांच एजेंसी एटीएस ने मालेगांव ब्लास्ट मामले में साध्वी प्रज्ञा समेत 14 लोगों के खिलाफ आरोप पत्र दायर किया था।
एटीएस ने सबूत के तौर पर कुछ सीडी पेश की थी।

जांच एजेंसी के तरफ से कहा गया था कि सीडी में साध्वी प्रज्ञा के साजिश रचने और बैठकों में शामिल होने के सबूत है। एनआईए ने मंगलवार को ट्रायल कोर्ट से सभी सीडी मंगाकर बाम्बे हाईकोर्ट में पेश लिया। एनआईए की मांग पर जस्टिस मोरे और शालिनी फंसलकर जोशी की बेंच ने बंद कमरे में सीडी देखी।लेकिन इस मामले में एक नया मोड़ तब आया पेश किए गए एक सीडी टूटी हुई निकली और एक में केवल आवाज ही सुनाई दे रही थी। उसके बाद कोर्ट ने कहा कि पेश की गईं सीडी का साध्वी की जमानत याचिका मंजूर न करने से कोई संबंध नहीं है। उसके बाद कोर्ट साध्वी प्रज्ञा की जमानत याचिका मंजूर कर लिया।

loading...

Comments

comments