पाउलो: हॉलीवुड वाले पक्षपात नहीं करते तो “My name is khan” के लिए शाहरुख़ ऑस्कर के हक़दार थे, आपकी क्या राय है

मशहूर लेखक पाउलो कोएल्हो ने कहा है,अगर हॉलीवुड के लोग पक्षपात नहीं करते तो सुपरस्टार शाहरुख़ खान, को ‘माय नेम इज़ खान’ में किये गए अभिनय के लिए ऑस्कर पुरस्कार मिलना चाहिए था|

69 वर्षीय नॉवेलिस्ट ने इस फिल्म की सातवी सालगिरह के मौके पर शाहरुख़ खान की प्रशंसा करते हुए ट्वीटर पर यह बात कही|

“माय नेम इज़ खान एंड आई ऍम नॉट आ टेररिस्ट’

मुबारक हो @iamsrk इतनी बेहतरीन फिल्म की सातवी सालगिरह के लिए” पाउलो ने लिखा|

‘दी अलकेम्सित’ के लेखक ने अपने फेसबुक का एक स्क्रीनशॉट भी लगाया जहाँ उन्होंने लिखा है की 2008 की यह फिल्म, शाहरुख़ की पहेली फिल्म थी जो उन्होंने देखी| फोटो के साथ यह सन्देश लिखा गया “उनकी पहेली(और सिर्फ) फिल्म जो मैंने देखी(इस साल, चाहे यह 2008 में ही क्यों ना आई हो) वह माय नेम इज़ खान है, और यह मूवी सिर्फ बेहतरीन हे नहीं, बल्कि इसके लिए एसआरके इसके लिए एक ऑस्कर के लायक थे अगर हॉलीवुड इसमें चालांकि नहीं दिखाता|”