दुनिया के सबसे बड़े सिर वाले छोटे से बच्चे का आपरेशन सफलतापूर्वक पूरा हुआ

भुनेश्वर: भारत का मृत्युंजय दास, जो केवल 7 महीना का है ‘हैड्रोसेफालूस’ नाम की एक बिमारी से ग्रस्त है, जिसके कारण दास के सर में काफी सारा तरल पदार्थ जमा हो गया और उसके सर का माप 70 से 96 सेंटीमीटर तक बढ़ गया था|

भुनेश्वर में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान के डॉक्टर दिलीप परिदा ने बताया की दास को 20 नवम्बर को अस्पताल में दाखिल कराया गया था और उस समय दास के सर में करीब 5. 5 लीटर तरल पदार्थ मौजूद था अभी तक हम 3.7 लीटर पदार्थ बाहरी वेंट्रिकुलर ड्रेनेज से निकाल चुके है जिसके साथ हमने बच्चे के दिमाग में एक स्टंट भी डाला है जो बिलकुल सही तरह से काम कर रहा है बच्चे के संज्ञानात्मक कार्यों में काफी अंतर देखा गया है