गीता और बविता फोगाट आयीं ज़ायरा के समर्थन में, जानिए पूरा मामला

नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर की सीएम महबूबा मुफ्ती से मुलाकात करने पर ‘दंगल’ फिल्म में काम करने वाली अभिनेत्री जायरा वसीम ने फेसबुक पर माफी मांगी है. जायरा ने ‘दंगल’ में गीता फोगट के बचपन का किरदार निभाया था.
उन्होंने फेसबुक और ट्विटर पर एक पोस्ट कर इस मुलाकात पर सफाई दी है. आगे जानें, पुरा मामला और साथ ही यह भी जानें कि कौन-कौन जायरा वसीम के समर्थन में आए हैं? बता दें कि कुछ दिनों पहले जायरा ने महबूबा से मुलाकात की थी. और इसके बाद से उन्हें सोशल मीडिया पर कई तरह की धमकियां मिलने लगी. कुछ से तो जान से मारने तक की धमकी मिलने लगी. इसके बाद जायरा ने फेसबुक और ट्विटर पर माफी मांगी. हालांकि माफी मांगने के 3 घंटे बाद ही जायरा ने सोशल मीडिया से माफीनामा वाला अपना पोस्ट विवाद बढ़ने के बाद हटा लिया है.
अब इस पूरे मामले पर लेखक जावेद अख्तर ने भी ट्विटर के अपने विचार शेयर किए हैं. जावेद अख्तर ने लिखा, ‘जो लोग चिल्ला-चिल्लाकर आजादी की बात करते हैं वो दूसरों को थोड़ी सी भी आजादी नहीं देते. जायरा को सफलता के बाद माफी मांगनी पड़ रही है.’

रेस्लर गीता फोगाट ने जायरा का समर्थन करते हुए कहा है, ‘धाकड़ लड़कियों का रोल किया है उसने तो उसको डरने और शर्मिंदा होने की कोई जरूरत नहीं है.’ गीता फोगाट की बहन और रेस्लर बबीता फोगाट ने भी जायरा का समर्थन करते हुए कहा है, ‘हम भी यहां बहुत सारी कठिनाइयों को सामना करके पहुंचे हैं. जायरा को बताना चाहूंगी कि उसे डरने की जरूरत नहीं है, देश उसके साथ है.’ आपको बता दें कि जायरा ने फेसबुक/ट्विटर पर पोस्ट किए गए अपने माफीनामे में लिखा था, ‘यह एक खुली माफी है. मैं जानती हूं कि हाल में मैं जिनसे मिला हूं लोगों को इसका बुरा लगा है. मैं उन सभी से माफी मांगती हूं जिन्हें अनजाने में मैंने दुख पहुंचाया है. मैं उन्हें बताना चाहती हूं कि मैं उनके जज्बातों को समझती हूं खासतौर से पिछले 6 महीने में जो हुआ है. लेकिन मैं उम्मीद करती हूं कि लोग यह भी समझेंगे कि कई बार परिस्थितियों के आगे किसी की नहीं चलती है.’

जायरा ने आगे लिखा, ‘मैं आशा करती हूं कि लोग यह ध्यान में रखेंगे कि मैं अभी सिर्फ 16 साल की हूं और इसे समझते हुए मेरे साथ वैसा ही व्यवहार करेंगे. मैंने जो किया उसके लिए मैं माफी मांगती हूं क्योंकि यह जानबूझकर लिया गया फैसला नहीं था. मैं उम्मीद करती हूं कि लोग मुझे माफ कर सकेंगे.’ अपने माफीनामे में जायरा ने इस बात पर भी जोर दिया कि उन्हें कश्मीरी लोग रोल मॉडल ना समझें. जायरा के मुताबिक इतिहास में कई रोल मॉडल हैं और मुझे रोल मॉडल की तरह पेश करना उनकी बेइज्जती होगी. जायरा ने अपने पोस्ट में यह स्पष्ट किया है कि वह किसी तरह का नया बहस नहीं शुरु करना चाहती हैं. जायरा ने यह भी लिखा कि जो वह जो कर रही हैं उसपर उन्हें गर्व है.

loading...

Comments

comments