कुछ ख़ास कारण जिनकी वजह से ओवैसी बने मुसलमानो के नेता…

ओवैसी मात्र एक ऐसे नेता है जिन्हें मुसलमानो ने अपना लीडर माना उस के पीछे है कुछ ख़ास बजह. मुस्लिम और दलितों के समर्थन में खुलकर बोलने वाले वाले आज युवाओं की पसंद में शुमार हो चुके है

कुछ मुस्लिम लीडरों ने अपनी राजनीती मुसलमानो के नाम से शुरू की और मुसलमानो के हक़ में काम भी किया मगर कुछ समय समय बाद वह किसी न किसी पार्टी के अधीन हो गए जिसके बाद उन लीडरों ने मुस्लिम मुद्दों को छोड़ कर पार्टियों के सुर में सुर मिलाना शुरू कर दिया। मगर इन सब के चलते ओवैसी अपनी एक अलग पहचान बना बैठे। इन सब के पीछे ओवैसी का जमीनी काम है. जो ओवैसी ने किया। ओवैसी अपनी पार्टी के एक मात्र सांसद है और पूरी की पूरी संसद उनके बिपक्ष में है इसके बाद भी ओवैसी ने मुसलमानो से जुड़े मुद्दों कई पूरी संसद में उठाया और वह उन मुद्दों को उठाने में कामयाब भी रहे अपनी बे बाक और बेदाग़ राजनीती कर रहे ओवैसी बिना किसी के दबाब में आये मुसलमानो के लिए खुल कर आवाज उठाते है।

जो आज तक किसी लीडर ने नहीं उठाया ओवैसी द्वारा अपने छेत्र में स्वस्थ और शिक्षा के छेत्र में बहुत काम किया काम पैसे में लोगों को इलाज और स्वस्थ सुबिधाये ओवैसी द्वारा लोगों को दी गई है। हमेशा विवादों में घिरे रहने वाले असदुद्दीन ओवैसी को संसद रत्न पुरस्कार से नवाजा जा चूका है। ओवैसी ने अपनी कौम के लिए कई ऐसे काम किये है जो आज तक नहीं किये गए यही वजह है मुसलमानो ने ओवैसी को अपना लीडर मान लिया है जब लोगों से पूछा गया की आप ने ओवैसी को क्यों पसंद किया तो लोगों ने जबाब देते हुए कहा की ओवैसी को हम अपना लीडर कहने में फक्र मसहूस करते है क्योंकि ओवैसी हमारे हक़ की बात करते है.