इस समय मांगी गयी दुआ रद्द नहीं होती….

हदीस में आया है कि कुछ ख़ास वक़्त पर दुआ मांगने पर दुआ रद्द नहीं होती, अल्लाह पाक हमारी सच्चे दिल से मांगी गयी दुआ को क़ुबूल कर लेता है. हदीस में हैं :




नबी करीम (सल्लाहु वलैहि वस्सलाम) ने फरमाया: इन मौक़ों पर फ़ौरन दुआ मांगो, दुआ रद्द नहीं होगी.

1) जब धूप में बारिश हो रही हो
2) जब अज़ान हो रही हो
3) सफर के दौरान
4) जुमा के दिन





5) रात को आँख खुले तो उस वक़्त
6) मुसीबत के वक्त
7) फ़र्ज़ नमाज़ों के बाद

loading...

Comments

comments